रूस यूक्रेन पर हमला करने जा रहा, अमेरिका ने यूरोपीय देशों को चेतावनी जारी की।

अमेरिकी ने अपने यूरोपीय सहयोगियों को एक चेतावनी जारी की है। जिसमें उसने सभी यूरोपीय सहयोगियों को बताया है कि रूस यूक्रेन पर हमला करने की योजना बना रहा है और सन 2014 की तरह क्रिमिया पर कब्जा कर लेगा।  यूएस के आधिकारियों ने गुप्त रूप से यूरोप के अपने सहयोगियों को संक्षिप्त विवरण देते हुए कहा है कि रूस अपनी सरहद पर लाखों की संख्या में सैनिक एकत्र कर रहा है।





अमेरिका की खूफिया रिपोर्ट के अनुसार, रूस ने अपनी सेनाओं को यूक्रेन सीमा पर तैनात कर रहा है और जिसमें रूस ने नई सैन्य टुकड़ियों को गुप्त रूप से रातों रात यूक्रेन सीमा पर जमा किया है।



ब्लूमबर्ग के अनुसार, रूस यूक्रेन पर हमला करने जा रहा है। यह जानकारी अमेरिकी की खुफिया रिपोर्ट पर आधारित है। जिस रिपोर्ट को  ने अपने यूरोपीय सहयोगियों के साथ साझा नहीं की है। जिससे अनुमान लगाया जा रहा है कि रूस 2014 फिर से दोहराने जा रहा है। 2014 में रूस ने क्रीमिया पर हमला कर उसे अपने कब्जे में ले लिया था। जबकि यूरोपीय देश कुछ नहीं कर सकें। यहीं कारण है कि अमेरिका पूरी रिपोर्ट अभी अपने सभी मित्रों से साझा नहीं कर रहा है।


यूक्रेन सीमा पर रशियन सैनिकों की बढ़ती तैनाती पर अमेरिका ने रूस को चेतावनी दी है कि मास्को यूक्रेन के बॉर्डर पर अत्याधिक सैन्य तैनाती कर गंभीर गलती करने जा रहा है। लेकिन अमेरिका की इस प्रतिक्रिया का  क्रेमलिन ने जवाब दिया कि रूस हमलावर नहीं है बल्कि नाटो और उसके सहयोगी रूस को उकसा रहे हैं।


रूस के रक्षा मंत्रालय ने यूक्रेन सीमा पर अपनी सैन्य तैनाती के मामले एक गंभीर दावा किया कि ब्रिटेन का एक विमान बोइंग आरसी-135 आरसी-135 रिवेट ज्वाइंट टोही विमान रूस के कब्जे वाले क्रीमिया के करीब जानें की कोशिश कर रहा था।जिसको रूस ने काला सागर का क्षेत्र में मार गिराया।


अमेरिका की खूफिया जानकारी को सही साबित करते हुए। यूक्रेन के रक्षा मंत्रालय ने इस बात की पुष्टि कर दी कि रूस के लगभग 90,000 सैनिक बॉर्डर से ज्यादा दूर नहीं स्थित हैं। जबकि रूस की महत्त्वपूर्ण 41वीं सेना की इकाइयां यूक्रेन की सीमा से 160 मील दूर  येलन्या शहर में  स्थित हैं।



यूएस के सेक्रेटरी ऑफ स्टेट टोनी ब्लिंकेन ने कहा कि हमारे पास मास्को के इरादों के बारे में पूर्ण रूप से स्पष्टता नहीं है।   लेकिन हम उनकी कार्यपद्धति को जानते हैं। उन्होंने आगे कहा कि हमारी चिंता यह है कि रूस  ने 2014 में जो कार्य किए हैं। वह फिर एक बार गंभीर गलती करने प्रयास करने जा रहें हैं।


सब जानते हैं कि इन दिनों बेलारूस और पोलैंड सीमा पर खतरनाक स्थितियों बनी हुई हैं। बेलारूस से हजारों की संख्या में लोग यूरोप में घुसना चाहतें हैं। क्योंकि बेलारूस में हालत दिन प्रति दिन बेहद खराब होते जा हैं। जिसमें एक मासूम बच्ची मौत भी हो गई है। ब्रिटेन ने पोलैंड की मदद करने के लिए अपनी सेना पोलैंड और बेलारूस सीमा पर  भेज दी है। जो बेलारूस से प्रवासियों को घुसने से रोकेगीं।




इसी वजह को लेकर अमेरिका और उसके सभी मित्रों ने रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन पर आरोप लगाया है कि बेलारूस और पोलैंड की सीमा पर प्रवासियों की समस्या रूस के राष्ट्रपति की देन है। पुतिन "रूसी साम्राज्य के पुनर्निर्माण" के लिए बेलारूस का यूरोपीय देशों के खिलाफ़ एक प्रॉक्सी के रूप में इस्तेमाल कर रहें हैं।


रूस विशेष में 

रूसी झंडा

       🇷🇺

रूस का औपचारिक नाम

        रूसी संघ 

        रूसी में रॉसिस्काया फेडेरात्सिया 

        संक्षिप्त रशिया

रूस की राजधानी

       मास्को

रूस का राष्ट्रपति

      व्लादिमीर पुतिन

रूस ने क्रीमिया पर कब्जा किया 

       2014

रूस की कुल आबादी

       14.41 करोड़

रूस का कुल क्षेत्रफल

        17,125,191 किमी

रूस स्थित

      पूर्वी यूरोप और उत्तरी एशिया में

रूसी मुद्रा

       रूसी रूबल

यूरोप का सबसे बड़ा शहर

       रूसी राजधानी मास्को

रूस में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा

        स्लाव भाषा 

रूसी प्रधानमंत्री

       दिमित्री मेदवेदेव

रूस में कुल समय क्षेत्र

       ग्यारह समय क्षेत्र

रूस का राष्ट्र वाक्य

        कोई नहीं

रूसी विधानमंडल

      संघीय परिषद

       सीनेट डुमा

रूस का बॉर्डर कुल देशों से लगता

       14 देश

रूस की कुल जीडीपी

      1,778 US billion dollars (7-9th)

रूस की प्रति व्यक्ति आय

       $12,254 (54th) per capita


Post a Comment

Previous Post Next Post