•नाटो पश्चिमी और उत्तरी अमेरीकी देशों का एक सैन्य गठबंधन है। जिसको हम उत्तर अटलांटिक संधि संगठन या उत्तरी अटलांटिक गठबंधन भी कह सकते हैं।

•नाटो में कुल 30 देश शामिल हैं। जिनमें  28 यूरोपीय देश और 2 उत्तरी अमेरिकी देश हैं।  

•इसकी स्थापना सेकंड विश्व युद्ध के खत्म होने के तुरंत बाद हुई थी। इसकी स्थापना उत्तरी अटलांटिक संधि के अंतर्गत हुई। जिस पर शुरुआत में कुल 12 देशों ने 4 अप्रैल 1949 को हस्ताक्षर किए गए थे।

नाटो की पहचान
संछेप नाम नाटो, ओटानी
गठन  4 अप्रैल 1949
रूप  सैन्य गठबंधन 
संधि  उत्तरी अटलांटिक संधि 
मूल देश  12 
वर्तमान नाटो देश  30 
हाल का सदस्य देश  उत्तरी मेसोदेनियन 
मुख्यालय  ब्रुसेल्स , बेल्जियम
यूरोपीय सदस्य  28 
उत्तरी अमेरिकी देश  अमेरिका और   कनाडा 
राजभाषा

 अंग्रेज़ी

फ्रेंच 

महा सचिव

 जेन्स स्टोल्टेनबर्ग

ऊषासदस्य्ता 

30 राज्य

 अल्बानिया

  बेल्जियम

   बुल्गारिया

    कनाडा

     क्रोएशिया

      चेक गणतंत्र

       डेनमार्क

        एस्तोनिया

         फ्रांस

          जर्मनी

           यूनान

            हंगरी

             आइसलैंड

              इटली

               लातविया

                लिथुआनिया

                 लक्समबर्ग

                  मोंटेनेग्रो

                   नीदरलैंड

                    उत्तर मैसेडोनिया

                     नॉर्वे

                      पोलैंड

                       पुर्तगाल

                        रोमानिया

                         स्लोवाकिया

                          स्लोवेनिया

                           स्पेन

                            तुर्की

                             यूनाइटेड किंगडम

                              संयुक्त राज्य अमेरिका








                              नाटो सैन्य समिति के अध्यक्ष

                              एडमिरल रॉब बाउर , रॉयल नीदरलैंड्स नेवी

                              सुप्रीम एलाइड कमांडर यूरोप

                              जनरल टॉड डी. वोल्टर्स , संयुक्त राज्य वायु सेना

                              सुप्रीम एलाइड कमांडर परिवर्तन

                              जनरल फिलिप लविग्ने , फ्रांसीसी वायु और अंतरिक्ष बल

                              खर्चे (2019)

                              € 873.9 बिलियन US$ 1.036 ट्रिलियन [2]

                              वेबसाइट

                              www .nato .int इसे विकिडेटा पर संपादित करें

                              गान: " नाटो भजन "

नाटो का सुरक्षा संधि

नाटो  सामूहिक सुरक्षा के सिद्धान्त पर कार्य करता है। इसके किसी भी सद्स्य देश पर हमला सभी सदस्य देशों पर हमला माना जायेगा। इसके बाद सभी देश अपने सद्स्य देश की सैन्य सहायता देगे।

•नाटो का मुख्यालय  ब्रुसेल्स , बेल्जियम में स्थित है। जबकि एलाइड कमांड ऑपरेशंस का मुख्यालय भी मॉन्स , बेल्जियम के पास है ।   

नाटो का विस्तार

•आज यूक्रेन पर रूसी हमला नाटो के विस्तार से जुड़ रहा है। क्योंकि नाटो ने बड़ी तेजी से यूरोपीय देशों को नाटो का सद्स्य बनाया है। यहां तक कभी सोवियत संघ के सद्स्य देश रहे देशों को भी अमेरिका और पश्चिमी देशों ने नाटो का हिस्सा बना लिया है। 


•रूस को चिंता खा रहीं थीं। कहीं यूक्रेन भी नाटो का हिस्सा न बन जाएं। अगर यूक्रेन नाटो  हिस्सा बन जाता। तो अमेरिकन मिसाइल और खतरनाक हथियार रूस की गर्दन पर रखे होते। हालाकि ऐसा होने से पहले ही रूस ने यूक्रेन की फाइल ही निपटा दी। किंतू  यहां पर रूस को भी बेगुनाह नहीं ठहराया जा सकता है। क्योंकि इसी रूस ने यूक्रेन के क्रिमिया पर कब्ज़ा कर रखा है।              

•नाटो के मूल सदस्यों की संख्या 12 थी जो 2022 तक बढ़कर 30 हो चुकी है। 

•नाटो का हाल ही में बना सद्स्य देश  उत्तरी मैसेडोनिया है, जो 27 मार्च 2020 को नाटो में शामिल हुआ था। 


नाटो का सैन्य खर्च

नाटो अकेले पूरे विश्व के सैन्य खर्च का लगभग 50% हिस्सा खर्च करता है। 2020 में नाटो सैन्य खरच पूरे विश्व का 57 % तक था। इसको सभी नाटो देश 2024 तक 2%  जीडीपी के बराबर लाना चाहते हैं।


 

Post a Comment

Previous Post Next Post