अमेरिका ने आईएसआईएस के चीफ अबू इब्राहिम अल हाशमी का काम तमाम कर दिया, जोए बाइडेन के नेतृत्व को एक बड़ी सफलता मिली

अमेरिका के सैन्य बलों ने इस्लामिक स्टेट के चीफ़ "अबू इब्राहिम अल हाशमी अल कुरैशी" को मार गिराया। दरअसल अमेरिकी सैनिकों को एक खुफिया रिपोर्ट मिली थी कि आईएसआईएस का प्रमुख उत्तरी सीरिया के "डाइट बल्लूत" के घर में मौजूद है। 

इसी के आधार पर अमेरिकन सेना वहां पहुंच गई और चारों तरफ से दो अमेरिकी हेलीकॉप्टर ने घर को घेर लिया। इसके बाद आईएसआईएस चीफ़ को सरेंडर करने के लिए कहा गया। लेकिन जब अबू इब्राहिम अल हाशमी घर से बाहर नहीं निकला। तो सेना ने घर पर बड़ी मात्रा में बमबारी की। जिससे पूरा घर क्षतिग्रस्त हो गया। बाद में, अमेरिकन सेना के कमांडो घर पर उतरे और घर के अंदर घुसने की कोशिश की। तभी अबू इब्राहिम अल हाशमी ने अपने बच्चों और चार पत्नियों सहित खुद को उड़ा लिया। इसमें आईएसआईएस का प्रमुख और उसका पूरा परिवार मारा गया।



यह भी पढ़ें; 15 जून की गलवांन घाटी की झड़प में चीन के भारत से 9 गुना सैनिक मारे गए, ऑस्ट्रेलियन अखबार का दावा

अमेरिका राष्ट्रपति ने इसे अपनी सफलता बताई और इस पर उन्होंने ट्वीट किया कि कल रात मेरे निर्देश पर, यू.एस. सैन्य बलों ने सफलतापूर्वक एक आतंकवाद विरोधी अभियान चलाया।  हमारे सशस्त्र बलों की बहादुरी के लिए धन्यवाद, हमने आईएसआईएस के नेता अबू इब्राहिम अल-हाशिमी अल-कुरैशी को युद्ध के मैदान से हटा दिया है। अर्थात उसे मार दिया। 



इस पूरी कार्यवाही को अमेरीकी राष्ट्रपति ने खुद निरीक्षण किया। जब आतंकी का खेल खत्म हो गया। तब अमेरिकी राष्ट्रपति भवन व्हाइट हाउस ने एक तस्वीर ट्वीटर पर साझा की। जिसमें राष्ट्रपति जोए बाइडेन अपनी टीम का नेतृत्व करते दिख रहे हैं। उनकी टीम में उपराष्ट्रपति हैरिस, रक्षा सचिव मार्क एस्पर और राष्ट्रपति की राष्ट्रीय सुरक्षा टीम के सदस्य जनरल माइक माइली शामिल थे। 


इसी तरह की तस्वीर पूर्व अमेरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जारी की थीं। जिसमें उनके साथ राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रॉबर्ट ओ ब्रायन, उप राष्ट्रपति माइक पेंस और जनरल मार्क माइली भी बैठें दिखते हैं।  तब उनके नेतृत्व में अमेरिकी सैन्य बलों ने इस्लामिक स्टेट के पहले प्रमुख अबु बकर अल बगदादी को मारा था। बगदादी भी अल हाशमी की ही तरह मरा था। उसने भी 27 अक्टूबर 2019 को अपने दो बच्चों सहित खुद को बॉम्ब से उड़ा लिया था। बगदादी को अमेरीकी सेना को उत्तरी सीरिया के "इदलिब प्रांत" में मिला था।  


यह भी पढ़ें; रक्षा क्षेत्र बजट 4.98 लाख करोड़ से बढ़कर 5.25 लाख करोड़ तक पहुंच गया, पाकिस्तान से 6 गुना अधिक भारतीय रक्षा बजट ।

इस्लामिक स्टेट चीफ़ अबू इब्राहिम अल हाशमी अल कुरैशी

जब बगदादी को अमेरीकी सेना ने मार दिया था तब अल हाशमी ने इस्लामिक स्टेट का नेतृत्व किया और उसका नेता बन बैठा। इसने जब खुद को अबू बक्र अल-बगदादी के उत्तराधिकारी के रूप में घोषित किया था। तब दुनिया के पास इसके बारे में बहुत कम जानकारी थीं। इसने अपने सहयोगियों को बताया कि वह बगदादी की तरह मुहम्मद के वंश से संबंधित है। हालाकि इसके बारे में कुछ कहा नहीं जा सकता है। इसी तरह यह दुनिया के सबसे खतरनाक आतंकी संगठन का प्रमुख बन बैठा। सबसे ख़ास बात यह है कि अमेरीका ने इस पर 10 मिलियन डॉलर का ईनाम भी घोषित कर रखा था।

यह भी पढ़ें; चीन ओलिंपिक खेलों को सैन्य सैन्यीकरण कर रहा, गलवांन में घायल चीनी सैनिक को ओलंपिक मशाल वाहक बनाया

Post a Comment

Previous Post Next Post